प्रकाशन

संस्थान के प्रकाशन

  • अभिनन्दन-2021
  • हिन्दी साहित्य के उन्नायक साहित्यकार पंडित टोडरमल-2022
  • महावीर दर्शन-2022
  • संस्थान द्वारा चुने गये शोध पत्रों को ‘हिन्दी जैन साहित्य परम्परा और सरोकार‘ नामक पुस्तक में प्रकाशित किया गया।
  • ‘जैन धर्म संस्कृति के विविध आयाम‘ विषय पर आयोजित संगोष्ठी में आमंत्रित शोध पत्रों को ‘विमर्श ‘ नामक पुस्तक में प्रकाशित किया गया।
  • सम्भव वार्षिक पत्रिका 2019

    शिक्षण कार्यः

    शिक्षण कार्य/अन्य गतिविधियाॅ जैन दर्शन प्रवेशिका विषय पर छः (6) माह का आनलाइन प्रमाण-पत्र कोर्स।

हमारा प्रकाशन